Diagram

All technician and engineer rate card

जैसा कि हर इंजीनियर अपना-अपना एक रेट फिक्स करके रखते हैं. और इस वजह से काफी सारे टेक्नीशियनो को दिक्कते आती है. कई बार ऐसा होता है. कि कई टेक्नीशियन मार्केट रेट से भी बहुत ही ज्यादा कम सर्विस रेट लेते हैं. इस वजह से दूसरे टेक्नीशियन को काफी दिक्कतें आती है. ज्यादातर उन लोगों को दिक्कतें होती है. जिनका एक ही काम होता है. उदाहरण के लिए यदि कोई टेक्नीशियन केवल एसी का ही काम करता है. तो उनके सर्विस चार्ज को दूसरे टेक्नीशियन कम कर देते हैं तो उन्हें कस्टमर से सर्विस चार्ज लेने में काफी दिक्कतें आती है. क्योंकि एसी टेक्नीशियन एसी का ही काम करते हैं और उनका काम सिर्फ सीजन के 3 महीने ही चलता है. बाकी का टाइम उन्हें काम नहीं मिलता. इस वजह से बाकी के महीनों में उन्हें खर्चा निकालने की काफी दिक्कतें आती है. इसलिए हमें यह समझना चाहिए कि हम जो रेट फिक्स कर लेते हैं. वही ले रेट सबसे लेना चाहिए ना कि बहुत ज्यादा ना बहुत कम यदि हमारे बहुत ही जान पहचान का कस्टमर है. तो आप उनसे 50 या ₹100 कम ले सकते हो लेकिन इतना भी कम लेना सही नहीं है. जिसे दूसरों को अपना खर्चा निकालने में तकलीफ हो इसलिए अपनी सर्विस चार्ज को फिक्स कर लीजिए. और सभी ग्राहकों से फिक्स चार्ज लीजिए अंत में एक बात कहूंगा. आप कस्टमर बनाइए रिश्तेदार नहीं कस्टमर बनाएंगे तो आपका घर चलेगा रिश्तेदार बनाएंगे तो जीवन में कई समस्या आएगी और वह लोग आपके काम नहीं आएंगे यह आपको समझना होगा और नीचे रेट कार्ड दे रखा है.उसके हिसाब से सर्विस रेट ले सकते हैं बाकी आप लोगों की इच्छा और उस रेट कार्ड को डाउनलोड करने के लिए डाउनलोड बटन पर क्लिक करें और डाउनलोड करें

Download Rate Card

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *